देवरिया से मृत्युंजय विशारद की रिपोर्ट

 

देवरियाा/ 26 फरवरी
तीन दिवसीय एग्रो क्लाइमेटिक जॉन स्तरीय विराट किसान मेला, प्रदर्शनी का शुभारम्भ आचार्य नरेंद्र देव अंतर कालेज पथरदेवा देवरिया परिसर में कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही ने फीता काट कर किया।


तीन दिवसीय मेला अलग अलग विधाओं को समर्पित है। किसानों के बहु विधि विकास, ज्ञानार्जन व तकनीकी क्षेत्र में सहभागिता बढ़ाने की दिशा में एक प्रयास है।
सरकार के अधिकांश विभागों के स्टाल व विषय विशेषज्ञ भी अपने अपने विषयों पर विस्तार से प्रकाश डाल कर किसानों को अपनाने की सलाह दी।
इस अवसर पर खेल, वालीवाल का बहु शुभारम्भ शाही जी ने किया।।कार्यक्रम में आचार्य नरेंद्र देव कृषि व प्रौद्योगिकी विश्व विद्यालय के कुलपति डॉ बिजेंद्र सिंह, जिलाधिकारी अमित किशोर, मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणपा जी एन, उप कृषिनेदेशक देवरिया डॉ ए के मिश्रा, एस पी डॉ श्रीपति मिश्रा, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ अन्तर्यामी सिंह , सहित अनेक लोगो नव अपने सम्बोधन में मेले के उद्देश्य व उओ योगिता पर विस्तार से प्रकाश डाला, अनेक स्टालों पर बड़ी संख्या में लोग, किसान जानकारी ले रहे है।उप कृषि निदेशक डा ए के मिश्र ने जनपद के समस्त कृषकों को अवगत कराया है कि 26 फरवरी से 28 फरवरी, 2021 तक[KGVID]https://newsamacharplus.com/wp-content/uploads/2021/02/VID-20210226-WA0034.mp4[/KGVID]
एग्रोक्लाइमैटिक जोन स्तरीय तीन दिवसीय विराट किसान मेला का आयोजन आचार्य नरेन्द्रदेव इण्टर कालेज, पथरदेवा, देवरिया में किया जायेगा, जिसमें पशुचिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय, मथुरा के वैज्ञानिकों द्वारा पशुपालन पर, आचार्य नरेन्द्रदेव कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, कुमारगंज, फैजाबाद के वैज्ञानिकों द्वारा, भारतीय सब्जी अनुसंधान केन्द्र वाराणसी के वैज्ञानिक द्वारा सब्जी उत्पादन के बारे तकनीकी जानकारी दी जायेगी। साथ ही प्रगतिशील/एचीवर किसानों को कृषि, उद्यान, पशुपालन, मत्स्य, रेशम, सहाकारिता, एग्रो, सिंचाई, लघु सिंचाई, विद्युत, बैंकर्स, एन0जी0ओ0/एफ0पी0ओ0, कृषि ज्ञान केन्द्र/विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिकों को आमंत्रित किया गया है। किसान मेला में फसल अवशेष प्रबन्धन, बुवाई, कटाई, मढाई के कृषि यंत्रों एवं अन्य कृषि यंत्रों का भी प्रदर्शन किया जायेगा तथा कस्टम हायरिंग सेन्टर की स्थापना, फार्म मशीनरी बैंक की स्थापना व ट्रैक्टर कम्पनियों के स्टाल लगाये जायेंगे इसमें विभिन्न विभागों एवं निजी क्षेत्र के कृषि निवेश कम्पनियों की भी प्रदर्शनी आयोजित की जायेगी। साथ ही विराट किसान मेला /कृषि प्रदर्शनी में फूड कोर्ट बनाया गया है जिसमें सभी प्रकार के खाद्य सामग्री उपलब्ध रहेगी।उप कृषि निदेशक जनपद के समस्त कृषकों से इस किसान मेले में अधिक से अधिक संख्या में सहभागिता करने की अपेक्षा की है। उन्होने बताया है कि कृषि विभाग एवं अन्य विभागों द्वारा गेंहू बीज, कृषि यन्त्र, कृषि रक्षा रसायन, उर्वरक इत्यादि का स्टाल लगाया जायेगा, जिससे किसान मेले में कृषक विभाग द्वारा संचालित कार्यक्रमों/ योजनाओं की जानकारियां प्राप्त कर लाभान्वित हो सकते हैं।