संत कबीर नगर / सांसद प्रवीण निषाद के निर्देशानुसार संयुक्त जिला चिकित्सालय के निरीक्षण का दूसरा दिन रात 12:00 बजे जिला चिकित्सालय पहुंचे सांसद प्रतिनिधि जयप्रकाश निषाद ने वहां के चिकित्सा व्यवस्था का जायजा लिया । जहां पर उन्होंने पाया कि दो एक्सीडेंटल मरीज तथा एक लावारिस मरीज मिला जिसमें लावारिस मरीज को डॉक्टर ने बताया कि उसने जहर खाया है जब श्री निषाद मरीज के पास पहुंचे तो सारे डॉक्टर हरकत में आ गए, वहां पता चला कि मरीज नशे में है या उसने कोई नशीला पदार्थ कर खाया है जबकि डॉक्टर द्वारा कहा गया कि उसने जहर खाया है प्रथम दृष्टया जहर खाने का किसी प्रकार का लक्षण नहीं दिखा सांसद प्रतिनिधि के कड़े रुख के चलते डॉक्टर उस मरीज की स्थिति को समझें तथा सांसद

प्रतिनिधि ने उसका नाम/ पता जानने की कोशिश की लेकिन मरीज नशे में होने के नाते अपना नाम बताया परन्तु पता बताने में असमर्थ रहा जब उसके पटे की जानकारी के लिए उसका जेब चेक किया गया तो उसके जेब से ₹6110 बरामद हुआ जिसे जयप्रकाश निषाद ने डॉक्टर के पास सुरक्षित रखवा दिया है तथा डॉक्टर को उसके देखभाल के लिए सख्त हिदायत देकर आए उधर दूसरी तरफ सड़क दुर्घटना में घायल धनघटा क्षेत्र के दो व्यक्तियों का हालचाल लिया इस दौरान पता चला एक की स्थिति गंभीर होने के कारण जिला चिकित्सालय से बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर रेफर कर दिया गया है एंबुलेंस को सूचना दी गई लेकिन करीब आधा घंटा बीत जाने के बाद भी एंबुलेंस नहीं आई इस बात पर इमरजेंसी ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर तिवारी ने गैर जिम्मेदाराना तरीके से अपने आपको मरीज को बचाने की जिम्मेदारी से अलग कर लिया जिसे सुनते ही सांसद प्रतिनिधि जयप्रकाश निषाद भड़क गए और वहां उपस्थित समस्त मेडिकल कर्मियों को सख्त हिदायत दी कि माननीय सांसद जी का सख्त निर्देश है कि जिले के चिकित्सा व्यवस्था को प्रथम वरीयता देते हो उसको सुधार कराना है तथा उन्होंने यह भी कहा कि अगर कोई भी डॉक्टर या स्टाफ अपनी जिम्मेदारी से भागेगा तो उसको सस्पेंड कराने की जिम्मेदारी माननीय सांसद जी की होगी और उस को सस्पेंड करा कर उसके कार्य से मुक्त करा दिया जयेगा। इसके साथ साथ उन्होंने वहां मौजूद जनता को यह विश्वास दिलाया कि आप सभी लोगों के साथ माननीय सांसद जी चिकित्सा व्यवस्था सुधारने के लिए दिन रात एक कर के मेहनत कर रहे हैं तथा जो भी अधिकारी कर्मचारी मनमानी करेगा उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई कराने का चेतावनी दिया जिस पर वहां उपस्थित कई ग्रामीणों ने उनके इस कार्य की सराहना की।