अब्दुर्रहीम शेख की रिर्पोट,

लालगंज (आजमगढ़)। देवगांव कोतवाली क्षेत्र के कपसेठा गांव में शुक्रवार को उस समय हड़कंप मच गया जब एक विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। प्राप्त समाचार के अनुसार डिंपल पत्नी सूरज यादव (22) की 20 मई 2019 को शादी हुई थी। वह बरदह थाना क्षेत्र के कोदहरा गांव के बाबू राम यादव की पांच बेटों तथा तीन पुत्रियों में सबसे छोटी संतान थी। उसका पति सूरज यादव पुत्र शिवनाथ मुंबई में रहकर गारमेंट्स कम्पनी मे काम करता है। वह अभी 2 महीने पूर्व ही मुंबई गया हुआ है और पत्नी से कहा था कि इस बार आने पर वह उसे मुंबई लेकर चलेगा। लेकिन उससे पूर्व मृतका ने किन परिस्थितियों में फांसी लगाई किसी की कुछ समझ में नहीं आ रहा है।
मृतका का जेठ मदन दो बच्चों का पिता है वह भी मुंबई में अपने परिवार के संग रहकर कमाता खाता है। मृतका पांच

भाई तीन बहन में सबसे छोटी है। सूचना पाकर मृतका का भाई तहसीलदार पुत्र बाबूराम कपसेठा पहुंच चुका है। भाई की उपस्थिति में पुलिस ने मृतका के कमरे का दरवाजा तोड़कर पंखा के हुक से साड़ी के सहारे लटकते हुए शव को नीचे उतारा तथा शव को कब्जे में ले लिया है।
मृतका के ससुर शिवनाथ ने बताया कि उनकी बहू ने गुरुवार की रात 9 बजे उन लोगों को भोजन आदि कराया तत्पश्चात वह अपने कमरे में सोने चली गई। जबकि वह शुक्रवार को प्रातः 5 बजे के करीब गेहूं काटने के लिए पत्नी के संग खेत में चले गए, बहू घर में ही थी। घर आने के बाद वह गांव में एक स्थान पर घाट के कार्यक्रम में चले गए। लौटने के बाद जब वह बहू से शुक्रवार को 10:30 बजे के करीब खाना मांगने गए तो आवाज देने के बाद भी बहू ने कोई जवाब नहीं दिया तथा कमरे के पास जाकर जब दरवाजा खोलने का प्रयास किया गया तो दरवाजे का कुंडा नहीं खुला और अंदर से कोई आवाज न आने पर उन्होंने पड़ोसियों को इसकी सूचना दी। पड़ोसियों ने इसकी सूचना पुलिस को तथा मृतका के मायका वालों को दी। मायका पक्ष से उसका भाई तहसीलदार वहां पहुंचा है तथा पुलिस भी सूचना पाकर पहुंचने के बाद दरवाजा तोड़कर मृतका के शव को नीचे उतारी और पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया है। पुलिस ने मृतका का मोबाइल तथा आत्महत्या के लिए प्रयोग की गई साड़ी को कब्जे में ले लिया है।