रिपोर्ट सत्येंद्र यादवमथुरा,

9 सूत्री मांगों को लेकर भाकियू मथुरा के महावन तहसील पर देगी धरना

मथुरा / भारतीय किसान यूनियन भानु की एक बैठक गढ़सौली में संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए राष्ट्रीय बरिष्ठ उपाध्यक्ष रतन सिंह पहलवान ने कहा कि किसानों की 9 सूत्रीय मांगों को लेकर भाकियू महावन तहसील पर धरना प्रदर्शन करेगी।राष्ट्रीय प्रवक्ता हरेश ठेनुआ ने कहा कि सरकारी क्रय केंद्रों पर गेंहू बेचने के लिए किसानों को लोहे के चने चबाने पड़ रहे हैं लेकिन उसके बाद भी किसानों से गेंहू नहीं खरीदा जा रहा है। क्रय केंद्र दलाली के अड्डे बन गये हैं। उन्होंने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि किसानों से 30 क्विन्टल गेंहू से ज्यादा की खरीद नहीं होगी के सरकारी आदेश के बाद बड़े किसानों के सामने गेंहू बेचने की गम्भीर समस्या खड़ी हो गयी है।

प्रदेश महासचिव रामवीर सिंह तोमर ने कहा कि वर्तमान सरकार ने 2014 में किसानों को बड़े बड़े सपने दिखाए थे। किसानों की दो गुनी आमनदनी की बात करने बाली सरकार ने डीजल के दाम आसमान पर पहुँचा कर किसानों को बर्बाद करने का काम किया है। डीजल की मार से खेती किसानी की लागत दो गुनी बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि 8 साल के बाद भी वर्तमान सरकार किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य तक नहीं दिला सकी है।
प्रदेश महासचिव तोमर ने कहा कि जनपद की आखिरी ग्राम पंचायत मादौर आजादी के 72 सालों बाद भी सड़क पानी जैसी मूलभूत आवश्यकताओं के लिए तरस रही है । बैठक में जिला अध्यक्ष देवेंद्र पहलवान ने कहा कि प्रशासन किसानों की समस्याओं की लगातार अनदेखी कर रहा है इसीलिए भाकियू महावन तहसील पर धरना प्रदर्शन करने को बाध्य हुई है।जिला अध्यक्ष ने धरना प्रदर्शन के लिए एक संघर्ष समिति के गठन की घोषणा की । संघर्ष समिति में प्रदेश सचिव जगदीश रावत , प्रदेश सचिव रीतिराम ठाकुर , मंडल बरिष्ठ उपाध्यक्ष कुंतिभोज रावत , जिला अध्यक्ष युवा प्रकोष्ठ भूपेंद्र सिंह चौधरी, प्रमुख जिला महासचिव साधु प्रधान , ब्लॉक अध्यक्ष देवी सिंह रावत को अलग अलग जिम्मेदारी सौंपी गई।