मामलों को सुलझाती नहीं उलझाती है पौली चौकी पुलिस

🔴पौली। सन्त कबीर नगर
पुलिस चौकी पौली के कुछ चर्चित् पुलिस कर्मी इन दिनों क्षेत्र में मामले कों सुलझाने के बजाय उलझाने के लिए चर्चा का विषय बने हुए है। क्षेत्र के लोगों का कहना है की अपने को प्रभारी समझने वाले यह चर्चित सिपाही जो भी मामला किसी तरह इनके सम्पर्क में आता है। उसे अपने स्तर से बाहर ही निपटा देते हैं घटना 2 दिन पहले की है  शाम को चोरी के सामान के साथ चार व्यक्तियों को रंगे हाथ पकड़ा गया जिनके नाम राजकुमार पुत्र स्व रामदास दुलहापार, अमर जीत पुत्र रामानन्द यादव मडपौना, गोरखनाथ पुत्र बेचनप्रसाद मडपौना यह लोग चोरी के सामान को लेकर बेचने जा रहे थे तभी कोई पौली चौकी के सिपाही को सूचना दे दिया  जिस पर पौली चौकी के चर्चित सिपाहियों ने उसे पकड़ लिए और चारों अभियुक्तों में से एक अभियुक्त को मोटी रकम लेकर छोड़ दिया गया और बाकी को शांति भंग में चालान कर दिया गया चर्चा यह है कि इन लोगों से भी रकम ली गई है ग्रामीणों ने बताया की चोरी का नल,और, बैट्री के साथ अभियुक्तों को बरामद किया गया था लेकिन बरामदगी नहीं दिखाई। इसी तरह का एक मामला गत दिवस स्थानीय थाना क्षेत्र के खरचा ग्राम पंचायत स्थित हनुमान हेल्थ केयर सेंटर का है। जहां हेल्थ केयर सेंटर पर लगे जनरेटर की बैटरी व देशी हैण्डपम्प चोरी की लिखित सूचना पुलिस को दी गई थी जिसमें शक के आधार पर प्रबंधक के द्वारा कुछ नाम दिए गए थे पुलिस कर्मीयों ने उन लोगों से सुलह समझौता कराकर एक हफ्ते में बैट्री दिलाने का वादा किया लेकिन हेल्थ केयर के प्रबंधक ने बताया की सुलह करने के बावजूद अभी तक सामान नहीं मिला।  इसी प्रकार के लगभग आधा दर्जन ऐसे मामले है जिसको इन चर्चित सिपाही के द्वारा  उलझा कर रखा गया है सूत्र तो यह भी बताते हैं इन  के द्वारा कितने मामले बाहर ही निपटा दिए जाते हैं जिसकी भनक चौकी प्रभारी को भी नहीं लगती। इन लोगों की कार्यशैली से क्षेत्र के लोगों में असतोष के साथ-साथ भारी आक्रोश भी है ।